11 जनवरी को एटा मंडी से दिल्ली की होगी पैदल यात्रा, रणनीति तैयार - NUMBER ONE NEWS PORTAL

NUMBER ONE NEWS PORTAL

मेरा प्रयास, आप का विश्वास

Comments

11 जनवरी को एटा मंडी से दिल्ली की होगी पैदल यात्रा, रणनीति तैयार

एटा (डीवीएनए)। अखिल भारतीय किसान यूनियन के पदाधिकारियों की बैठक अवागढ़ स्थित कार्यालय पर संपन्न हुई।
उक्त बैठक में पदाधिकारियों ने अवगत कराया कि प्रदेश के कुछ किसान नेताओं को सरकार के इशारे पर पुलिस द्वारा आंदोलन में सहभागिता करने से रोका जा रहा है जिससे किसानों में काफी आक्रोश है अखिल भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले किसान मसीहा लाल बहादुर शास्त्री जी की पुण्यतिथि पर 11 जनवरी 2021 को एटा मंडी समिति पर किसान प्रातः 10 बजे से एकत्रित होकर पैदल यात्रा शुरू कर दिल्ली के लिए कूच करेंगे।
उक्त यात्रा को देखते हुए देश के प्रधानमंत्री के इशारे पर पुलिस कार्यकर्ताओं को रोकने का कार्य कर रही है इस पर यह तय किया गया कि अब पुलिस प्रशासन ने किसी भी कार्यकर्ता पदाधिकारी को अनायास परेशान करने का प्रयास किया तो संगठन के पदाधिकारी कार्यकर्ता किसी भी हालत में चुप नहीं बैठेंगे और ईट का जवाब पत्थर से देंगे, अगर किसानों को शांती से अपने यात्रा करके सरकार के समक्ष बात रखने जा रहे किसानों को रोकने का कुत्सित प्रयास किया गया तो लड़ाई दूसरी प्रकार की लड़ी जाएगी, सारे किसान अपने-अपने स्थानों पर चक्का जाम कर के पक्के धरना स्थल बनाएंगे, जहां होंगे वहीं टेंट लगवा दिए जाएंगे, साथ ही उपस्थित पदाधिकारी कार्यकर्ताओं को निर्देशित किया गया कि अपनी-अपनी पद की गरिमा के अनुसार सभी पदाधिकारी कार्यकर्ता उक्त आंदोलन में सहयोग करते हुए अधिक से अधिक किसान साथियों को अपने साथ लेकर पदयात्रा में चलें और उक्त आंदोलन को सफल बनाने का काम करें यह आंदोलन खेती किसानी को बचाने के लिए बड़ी लड़ाई है इसमें जो भी संगठन का पदाधिकारी कार्यकर्ता या सहयोगी सहयोग नहीं करेगा उसे निष्क्रिय माना जाएगा और उक्त पदाधिकारी की निष्क्रियता को देखते हुए भविष्य में उससे किसान आंदोलन के नाम पर या संगठन की गतिविधियों के नाम पर उसे निष्क्रिय सूची में डालते हुए नए सक्रिय लोगों को प्रमुख जिम्मेदारियां संगठन में दी जाएंगी।
अखिल भारतीय किसान यूनियन ने किसी पदाधिकारीयों की पूरी सेना सिर्फ किसान बिरादरी पर संकट के समय में बड़ी लड़ाई लड़ने के लिए तैयार की गई है ऐसी स्थिति में जो भी साथी सहयोग नहीं करेंगे उनको केवल अपने घर परिवार और गांव में पद दिखाने के लिए संगठन की तरफ से आजीवन पदाधिकारी नहीं रखा जाएगा जो इस क्रांति में साथ देंगे उन्हीं को भविष्य में निरंतर सम्मान दिया जाएगा बाकी लोगों से संगठन अपना रिश्ता भविष्य के लिए उतना ही उनसे रखेगा जितना वह नाम के पदाधिकारी कार्यकर्ता है साथ ही सभी अधिकारी कार्यकर्ताओं को जिम्मेदारी दी गई है कि प्रत्येक किसान परिवार को आंदोलन से जोड़ने के लिए अनाज और सब्जी के लिए पैसे के रूप में कुछ ना कुछ सहयोग ले करके उसकी विद्द्वत सूची तैयारी कर संगठन को उपलब्ध कराएं और यात्रा में साथ रहने वाले क्रांतिकारी किसान साथियों की भी सभी पदाधिकारी अपनी अपनी सूची तैयार करें सारे पदाधिकारी कार्यकर्ताओं ने उपरोक्त रणनीति में अपनी सहमति व्यक्त की।
इस अवसर पर प्रमुख रूप से अखिल संघर्षी राष्ट्रीय अध्यक्ष, तेज सिंह वर्मा राष्ट्रीय महासचिव, रामकिशन यादव प्रदेश अध्यक्ष, बब्लेश यादव युवा प्रदेश अध्यक्ष, ताज मोहम्मद जिलाध्यक्ष फिरोजाबाद, नीटू भाई, आशुतोष, बंटू भाई, विनय एडवोकेट, बबलू नागर, रामविलास प्रधान सहित आदि लोग उपस्थित रहे।
संवाद वैभब पचैरी

Digital Varta News Agency

Post Top Ad

loading...