कन्नौज: जिला अस्पताल में चार घंटे तक नहीं मिला वृद्ध को उपचार, मौत - NUMBER ONE NEWS PORTAL

NUMBER ONE NEWS PORTAL

मेरा प्रयास, आप का विश्वास

Comments

कन्नौज: जिला अस्पताल में चार घंटे तक नहीं मिला वृद्ध को उपचार, मौत

कन्नौज। डीवीएनए

यूपी के कन्नौज जिले के जिला अस्पताल में लापरवाही की भी हद है। एक वृद्ध को चार घंटे तक उपचार नहीं मिलने से मौत हो गई। ऐसे में चार घंटे बाद जब मीडिया कर्मी ने मामले को सीएमएस के सामने रखा, तब बुजुर्ग को भर्ती किया गया। रात भर भर्ती रहने के बाद मंगलवार सुबह मरीज ने दम तोड दिया। हालांकि इस मामले में सीएमएस ने लापरवाही स्वीकार की है।

इत्रनगरी में स्वास्थ्य सेवाएं किस कदर चरमराई हुई हैं, इसकी बानगी एक दिन पहले जिला अस्पताल में तब देखने को मिली, जब औरैया जिले के अपेगा गांव निवासी गणेश अपने पिता सूरज प्रसाद को लेकर यहां इलाज कराने के लिए पहुंचा। सोमवार सुबह करीब 10 बजे जिला अस्पताल में पहुंचने के बाद जब गणेश ने अपने बुजुर्ग पिता को भर्ती करने की स्वास्थ्य कर्मियों से गुहार लगाई तो लापरवाह स्वास्थ्य कर्मियों ने उन्हें इधर से उधर दौडाना शुरू कर दिया।

परेशान होकर गणेश ने अपने बीमार पिता को जिला अस्पताल परिसर में जमीन पर ही लिटा दिया। यहां करीब चार घंटे तक बुजुर्ग जमीन में तडपते रहे। इस बीच मीडिया कर्मी की नजर जब जमीन पर पडे बुजुर्ग मरीज पर पडी तो उन्होंने इस मामले को जिला अस्पताल के सीएमएस डॉ. शक्ति बसु के सामने रखा।

मामले की जानकारी मिलते ही सीएमएस ने स्वास्थ्य कर्मियों को फटकार लगाई और आनन-फानन में बुजुर्ग मरीज को भर्ती कर इलाज करने के निर्देश दिए।

जिसके बाद बुजुर्ग को भर्ती कर इलाज शुरू किया गया। लेकिन तब तक उनकी हालत काफी बिगड चुकी थी। ऐसे में रात भर भर्ती रहने के बाद मंगलवार सुबह उन्होंने दम तोड दिया। बुजुर्ग की मौत से परिजन बिलखने लग गए। गैर जनपद के निवासी होने के कारण परिजन उनका शव लेकर चले गए। मामले को लेकर सीएमएस डॉ. शक्ति बसु का कहना है कि बुजुर्ग के इलाज में लापरवाही बरती गई है।

भर्ती करने की वजाय उनके तीमारदारों को इधर-उधर टहलाया गया। इस मामले में लापरवाह स्वास्थ्य कर्मियों को नोटिस देकर स्पष्टीकरण मांगा जाएगा और फिर कार्रवाई भी की जाएगी।

संवाद, राकेश पाण्डेय

Digital Varta News Agency

Post Top Ad

loading...