यूपी में ई-संजीवनी के माध्यम से 24 घंटे में 4,410 लोगों ने चिकित्सीय परामर्श लिया - NUMBER ONE NEWS PORTAL

NUMBER ONE NEWS PORTAL

मेरा प्रयास, आप का विश्वास

Comments

यूपी में ई-संजीवनी के माध्यम से 24 घंटे में 4,410 लोगों ने चिकित्सीय परामर्श लिया

लखनऊ डीवीएनए। उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने लोक भवन में प्रेस प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए बताया कि प्रदेश में कल एक दिन में कुल 1,49,823 सैम्पल की जांच की गयी। प्रदेश में अब तक कुल 2,39,43,169 सैम्पल की जांच की गयी है।

उन्होंने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना सेे संक्रमित 971 नये मामले आये हैं। प्रदेश में 14,260 कोरोना के एक्टिव मामले में से 6,337 लोग होम आइसोलेशन में हैं। निजी चिकित्सालयों में 1,275 लोग ईलाज करा रहे हैं, इसके अतिरिक्त मरीज एल-1, एल-2 तथा एल-3 के सरकारी अस्पतालों मंे अपना ईलाज करा रहे हैं।

उन्होंने बताया कि अब तक कुल 5,63,278 लोग कोविड-19 से ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। प्रदेश में कोविड-19 का रिकवरी प्रतिशत 96.13 है। प्रदेश में ई-संजीवनी के माध्यम से 24 घंटे में 4,410 लोगों ने चिकित्सीय परामर्श लिया है। अब तक 3,32,130 लोगों ने चिकित्सीय परामर्श लिया है। प्रदेश में सर्विलांस टीम के माध्यम से 1,79,772 क्षेत्रों में 4,99,780 टीम दिवस के माध्यम से 3,09,74,970 घरों के 15,06,86,305 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया है।

श्री प्रसाद ने बताया कि ‘मेरा कोविड केन्द्र ऐप‘ के माध्यम से उपयोगकर्ता द्वारा 05 किलोमीटर के दायरे में स्थित कोविड-19 जांच केन्द्र की जानकारी प्राप्त की जा सकती है। उन्होंने बताया कि वैक्सीन के संबंध मे सभी तैयारियां की जा रही है, जिसमें कोल्ड चेन के उपकरणों की व्यवस्था करने के साथ-साथ, स्टाफ को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। कोविड वैक्सीन के भण्डारण के साथ-साथ वैक्सीन लक्षित समूहों को चरणबद्ध तरीके से लगाने की व्यवस्था की जायेगी है।

उन्होंने बताया कि 09 दिसम्बर के बाद से यू0के0 से आने वाले लोगों का कोविड-19 टेस्ट कराया जा रहा है। अब तक 2500 से अधिक सैम्पल लेकर टेस्ट किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि कोविड के नये संक्रमण से लोगों को डरने व घबराने की आवश्यकता नहीं है इससे बचाव के भी वही तरीके है जो अब तक अपनाये जा रहे है। इसलिए सभी लोग मास्क पहनें, हाथ साबुन-पानी से धोते रहें तथा लोगों से दो गज की दूरी बनाये रखें। जब तक वैक्सीन नहीं आती तब तक कोविड प्रोटोकाॅल का पालन करते हुए पहले से बीमार बुजुर्गों, बच्चों, गर्भवती महिलाओं को संक्रमण से बचाना होगा।

Digital Varta News Agency

Post Top Ad

loading...