रेलवे की बल्ले बल्ले: बुंदेलखंड से 21 बोगियों की पहली बालू रैक रवाना - NUMBER ONE NEWS PORTAL

NUMBER ONE NEWS PORTAL

मेरा प्रयास, आप का विश्वास

Comments

रेलवे की बल्ले बल्ले: बुंदेलखंड से 21 बोगियों की पहली बालू रैक रवाना

बांदा (डीवीएनए)। बुंदेलखंड में भाड़े पर बालू की ढुलान मिलने से रेलवे काफी खुश है। इसकी बानगी सोमवार को मंडल मुख्यालय में साफ नजर आई। बालू की मालगाड़ी रवाना होने से पहले रेलवे अधिकारियों ने प्लेटफार्म पर बाकायदा पूजा-पाठ और मंत्रोच्चारण कराया। स्टेशन प्रबंधक का कहना है कि रेलवे की आमदनी बढ़ने के साथ ही ओवरलोडिंग पर लगाम लगेगी।
बुंदेलखंड में बालू की ढुलान अब तक ट्रकों से हो रही है। समूचे उत्तर प्रदेश सहित अन्य प्रांतों में भी यहां की बालू की ढुलान ट्रकों से की जा रही है। इधर, कोरोना में ट्रेनों के संचालन और भाड़े में आई कमी के बाद शायद अपने घाटे की भरपाई के लिए रेलवे भी बालू ढुलान में शामिल हो गया है।
पूर्व निर्णय के मुताबिक सोमवार को यहां रेलवे मालगोदाम के पास बालू की पहली ट्रेन रवाना की गई। इसे लेकर कई दिनों से रेलवे अधिकारी तैयारियों में जुटे थे। मालगाड़ी रवानगी से पहले प्लेटफार्म पर पुजारी से मंत्रोच्चारण आदि कराया गया। स्टेशन प्रबंधक सहित अन्य अधिकारी व स्टाफ मौजूद रहे। स्टेशन प्रबंधक श्रीकृष्ण कुशवाहा ने बताया कि पहली यह रैक मेसर्स बंगाली बाबू, आगरा के लिए भेजी जा रही है। ट्रेन में 21 रैक लगाए गए हैं। यह भरतपुर जाएगी। प्रबंधक ने कहा कि बालू ढुलान शुरू होने से रेलवे की आमदनी में वृद्धि होगी।
भविष्य में अन्य शहरों के लिए भी रेलवे रैक से बालू भेजने की योजना है। पूजा-पाठ और ट्रेन रवानगी के समय प्रबंधक सहित यातायात निरीक्षक पीके सिंह, मुख्य वाणिज्य निरीक्षक संजय कुमार, मुख्य माल गोदाम पर्यवेक्षक सुरेश मिश्रा और लोडिंग टीम के लोग उपस्थित रहे।
संवाद विनोद मिश्रा

Digital Varta News Agency

Post Top Ad

loading...