महिलाओं की समानता के संघर्ष की जीती जागती मिशाल है क्रांति ज्योति राष्ट्रमाता सावित्री बाई फुले : लक्ष्य - NUMBER ONE NEWS PORTAL

NUMBER ONE NEWS PORTAL

मेरा प्रयास, आप का विश्वास

Comments

महिलाओं की समानता के संघर्ष की जीती जागती मिशाल है क्रांति ज्योति राष्ट्रमाता सावित्री बाई फुले : लक्ष्य

देवरिया डीवीएनए। लक्ष्य की देवरिया टीम ने क्रांति ज्योति राष्ट्रमाता सावित्री बाई फुले की जयंती के अवसर पर एक कैडर कैंप का आयोजन जिला देवरिया के गौरी बाजार में किया जिसमें लक्ष्य की महिला कमांडर लखनऊ व गोरखपुर से शामिल हुई |

महिलाओं को विशेषतौर से बहुजन समाज की महिलाओं को अगर हर क्षेत्र में समानता चाहिए तो उनको क्रांति ज्योति राष्ट्रमाता सावित्री बाई फुले को समझना होगा। उनके बताये मार्ग पर चलना होगा और अपनी अपनी जाति व धर्म की दीवारों से बाहर निकलकर एकजुट होना होगा |

महिलाओं की समानता के संघर्ष की जीती जागती मिशाल है क्रांति ज्योति राष्ट्रमाता सावित्री बाई फुले, उन्होंने महिलाओं के अधिकारों के लिए जीवन भर संघर्ष किया और कट्टरपंथियों से भी आमना सामना किया और आखिरकार महिलाओं के अधिकार प्राप्त करने में कामयाब हुई। यह बात लक्ष्य कमांडरों ने अपने संबोधन में कही |

इस कैडर कैंप में लक्ष्य कमांडर गोरख प्रसाद सिद्धार्थ गोरखपुर से मुख्य वक्ता के रूप में शामिल हुए और लक्ष्य कमांडर विजय लक्ष्य गौतम, रेखा आर्या, संघमित्रा गौतम, एडवोकेट लक्ष्मी गौतम लखनऊ से वक्ता के रूप में शामिल हुई |

कैडर कैंप का आयोजन लक्ष्य युथ कमांडर विवेक साहनी, अनिल कुमार, सुदर्शन कुमार उर्फ़ गुड्डू बाबू, सुरेंद्र बौद्ध, संतोष कुमार, सुरेंद्र भाष्कर, श्यामपति बौद्ध, राधेश्याम, राम आशीष माथुर, चम्पा देवी, सीमा देवी, विजय लक्ष्मी, राज लक्ष्मी, गुड़िया, आरती, बेबी व सविता ने किया |

Digital Varta News Agency

Post Top Ad

loading...