बारात को नहीं मिला दुल्हन का घर, रात भर खोजकर सबह वापस गए बाराती - NUMBER ONE NEWS PORTAL

NUMBER ONE NEWS PORTAL

मेरा प्रयास, आप का विश्वास

Comments

बारात को नहीं मिला दुल्हन का घर, रात भर खोजकर सबह वापस गए बाराती

वाराणसी। डीवीएनए

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ में एक चौंका देने वाला मामला सामने आया है। यहां दूल्हा और बारातियों को झेलना पड़ा उसकी आप कल्पना भी नहीं कर सकते। जिले के एक गांव से धूमधड़ाके के साथ बारात निकली। फूलों के सेहरे में सजा दूल्हा और बैंडबाजे की धुन पर नाचते-गाते बाराती जब दुल्हन के घर पहुंचे तो सभी सन्न रह गए।

बारातियों को यहां न तो मंडप दिखा और न ही दुल्हन के परिवार वाले। बाराती सारी रात दुल्हन का घर और उनके परिवार वालों को खोजती रही। दुल्हन और उसके परिवार वालों का जब बारातियों को पता नहीं चला तो रविवार सुबह बारात बैरंग लौट गई। बिना दुल्हन के लौटे गुस्साए ग्रामीणों ने रिश्ता तय कराने वाली महिला को अपने घर बुलाकर बंधक बना लिया और उसकी जमकर पिटाई की।

मामला जिले के कांशीराम कॉलोनी का है। यहां के रहने वाले एक युवक की छतवारा की रहने वाली एक महिला ने मऊ जिले के मोहम्मदाबाद कोतवाली क्षेत्र के राजीपुर में एक लड़की से शादी तय कराई थी। बताते हैं कि जिस लड़की से युवक का रिश्ता तय हुआ था उसकी नरौली स्थित एक दुकान पर दिखाई हुई थी।

इसके बाद दोनों पक्षों में बातचीत के बाद शादी तय हुई। शादी का मुहूर्त भी 10 दिसंबर का निकला। आरोप है कि लड़की वालों ने गाजे-बाजे और लाइट आदि की व्यवस्था के लिए लड़के वालों से 20 हजार रुपये भी युवक के परिजनों से ले लिए। तय तारीख के अनुसार कांशीराम से बारात रानीपुर पहुंची तो वहां न तो कोई मंडप दिखा और न ही लड़की का घर।

लड़की और उसके परिवार वालों का भी कोई अता-पता नहीं था। लड़की की खोजबीन में बाराती सारी रात खोजबीन करते रहे। अंत में अगले दिन रविवार की सुबह बारात बैरंग वापस लौट आई। इसके बाद युवक के परिवार की महिलाओं ने रिश्त तय कराने वाली महिला को घर बुलाकर बंधक बना लिया।

यहां उसकी जमकर पिटाई की गई। महिला के बंधक होने की खबर सुनकर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और बंधक बनी महिला को कोतवाली ले आई। उसके साथ युवक की मां और अन्य लोग भी कोतवाली पहुंच गए। महिला से पूछताछ करके पुलिस मामले की तफ्तीश करने में जुटी है।


संवाद राकेश पाण्डेय

Digital Varta News Agency

Post Top Ad

loading...