क्या इस दिन के लिये बेटी का हाथ सौंपा था, शादी के 15 दिन बाद ही इंजीनियर बहू की हत्या - माई यूपी न्यूज

माई यूपी न्यूज

मेरा प्रयास, आप का विश्वास

BREAKING

>

क्या इस दिन के लिये बेटी का हाथ सौंपा था, शादी के 15 दिन बाद ही इंजीनियर बहू की हत्या

कानपुर (डीवीएनए)। नौबस्ता के केशवनगर नवविवाहिता आरजू का अंतिम संस्कार रविवार दोपहर को भगवददास घाट पर कर दिया गया। पति अमनदीप ने चिता को मुखाग्नि दी। मध्य प्रदेश के शहडोल से आये नवविवाहिता के पिता नीरज कटारे के आँसू थमने का नाम ही नहीं ले रहे थे। उनका कहना था कि,बेटी की शादी में उम्मीद से कहीं ज्यादा ससुरालवालों को दिया था,इसके बाद भी उन्होंने उनकी बेटी की हत्या कर दी। रूंधे गले से वो बोले कि मैं कितना दुर्भाग्यशाली पिता हूं जो अपनी लाड़ली बेटी की अर्थी अपनी आँखों के सामने जाते देख रहा हूँ। बेटी ने कहा था कि,पापा आप सबको सरप्राइज दूँगी। इतना कहते ही वो फूट-फूट कर रोने लगे और बोले कि क्या यही सरप्राइज है? उन्होंने सपने में भी नहीं सोचा था कि शादी के पंद्रह दिन बाद ही बेटी की मौत हो जायेगी।
नौबस्ता के केशवनगर स्थित ससुराल पहुंचे नवविवाहिता के पिता,नीरज कटारे,मां अर्चना और दोनों भाई अमन और अनंत की आंखों से आंसू रूकने का नाम नहीं ले रहे थे। परिजनों के साथ आयी उसकी बुआ ने बताया कि वह उन्हें बहुत चाहती थी, लॉकडाउन में वह अपनी बुआ के घर पर ही रही। उन्होंने कहा कि ससुराल वालों ने पूरी घटना को छिपाया। बेटी की मौत के बारे में भी गलत सूचना दी। वह तो पूरा सच पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के बाद सामने आया।
बेटी की ससुराल आई माँ अर्चना, बेटी की अर्थी को देखकर बदहवास सी हो गई। उन्होंने गुस्से भरे लहजे में ससुरालियों से कहा कि,क्या इस दिन के लिये बेटी का हाथ सौंपा था। अब मेरी बेटी इस दुनिया में वापस नहीं आएगी। यह कहते ही लाचार और दुखी माँ फूट-फूट कर रोने लगी। वहीं पुलिस ने हत्या की जानकारी होते ही ससुरालियों को हिरासत में ले लिया है।
नौबस्ता के केशवनगर में शादी के महज 15 दिन बाद ही सॉफ्टवेयर इंजीनियर बहू आरजू गुप्ता य26द्ध की मुंह दबाकर हत्या कर दी गई। उनका शव बाथरूम में पड़ा मिला। ससुरालियों ने बाथरूम में गिरने से मौत की बात बताई लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट में दम घुटने से मौत की पुष्टि हुई थी ।
पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों के सुपुर्द कर दिया। पुलिस ने हत्या की जानकारी होते ही ससुरालियों को हिरासत में ले लिया है। मध्यप्रदेश के शहडोल निवासी ईंट कारोबारी नीरज कटारे ने अपनी इकलौती बेटी आरजू कटारे की शादी इसी माह 8 दिसंबर को नौबस्ता के केशवनगर निवासी अमनदीप से की थी।
अमनदीप बंगलुरू में इंजीनियर है। अमनदीप के पिता आरसी गुप्ता रेलवे में लोको पायलट हैं। घर में ससुर के अलावा सास पिंकी व एक ननद हैं। पिता नीरज ने बताया कि शुक्रवार देर रात अमनदीप ने आरजू को बाथरूम में गिरने से गंभीर रूप से घायल होने की जानकारी दी। इसके बाद वह अपने दोनों बेटों व अन्य रिश्तेदारों संग कानपुर पहुंचे जहां बेटी का शव मिला। ससुरालियों ने बाथरूम में गिरकर आरजू की मौत होने की जानकारी दी।
पुलिस ने मामला संदिग्ध देख आरजू के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। शनिवार रात आई पोस्टमार्टम रिपोर्ट में दम घुटने से मौत की पुष्टि हुई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार आरजू की मुंह दबाकर हत्या की गई। शरीर पर बाथरूम में गिरने से चोट के कोई निशान नहीं मिले हैं। थानाप्रभारी सतीश कुमार सिंह ने बताया कि अभी तहरीर नहीं मिली है। ससुरालियों से पूछताछ की जा रही है।

Digital Varta News Agency

No comments:

Post a comment

Post Top Ad

loading...