एक पंख पर एक पक्षी के लिए उड़ान भरना संभव नहीं - माई यूपी न्यूज

माई यूपी न्यूज

मेरा प्रयास, आप का विश्वास

BREAKING

>

एक पंख पर एक पक्षी के लिए उड़ान भरना संभव नहीं

आगरा(डीवीएनए )-अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय भारत सरकार के सौजन्य से सूर्योदय षिक्षा एवं समाज विकास समिति आगरा के द्वारा 6 दिवसीय नई रोशनी अल्पसंख्यक महिलाओं में नेतृत्व विकास प्रषिक्षण कार्यक्रम का आयोजन एकता पब्लिक जू0हा0 स्कूल महबूब नगर नगला मेवाती आगरा पर किया गया।

कार्यक्रम का आगाज क्षेत्रिय पार्षद मोहन सिंह लोधी ने दीप प्रज्जवलित कर किया तथा इस अवसर पर प्रषिक्ष्ण्णर्थियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि श्नई रोषनीश् अल्पसंख्यक महिलाओं में नेतृत्व विकास प्रषिक्षण कार्यक्रम भारत सरकार की एक महत्वपूर्ण योजना हैं इसके अन्तर्गत महिलाओं को प्रषिक्षण देकर समाज की मुख्यधारा से जोडने का अच्छा प्रयास हैं।नई रोषनी के जरिए भारत सरकार की इस पहल से अल्पसंख्यक समुदाय की महिलाओं में जागरुकता के साथ-साथ खुषहाली भी आयेंगी इसलिए कि सरकारी योजनाओं के ज्ञान के साथ ही इन्सानी जिन्दगी में सफलता प्राप्त करने के हुनर भी प्रषिक्षण में सिखाए जायेगें यह हुनर महिलाओं कों मुकाम हासिल करने व रोजमर्रा की जिन्दगी में सहयोगी साबित होगें महिला षिक्षा के महत्व को बताते हुए कहा था जब तक महिलाओं कि स्थिति में सुधार नहीं होगा तब तक दुनिया के कल्याण में कोई बदलाब नहीं आयेगा ऐक पुख पर एक पक्षी के लिए उड़ान भरना सम्भव नहीं हैं।

विशिष्ट अतिथि महावीर सिंह राजपूत अध्यक्ष मानव कल्यान एवं संसाधन विकास समिति फिरोजाबाद ने अपने सम्बोधन में कहा कि यह मेरे लिए सोभाग्य की बात हैं कि मुझे ऐसी महिला प्रषिक्र्षािथयों के बीच उपस्थित होने एवं प्रषिक्षण देने का अवसर प्राप्त हुआ जों पढाई लिखाई को काफी समय पहले छोड चुकी हैं या जों षुरुआत कर रही हैं। इस योजना में दोनों तरह की महिलाए भाग ले रही हैं। जो महिलाए बहुत पहलें पढाई लिखाई छोडकर ग्रहस्थ जीवन में व्यस्त हो गयी थी उनका इस योजना में प्रषिक्षण लेना दर्षाता हैं कि अगर अवसर मिले तो अल्पसंख्यक समुदाय की महिलाए भी किसी से कम नहीं हैं।उन्होने स्वयं सहायता समूह के गठन के विषय में विस्तार से बताते हुए कहा कि रोजमर्रा की आर्थिक आवष्यकताओं की पूर्ति के लिए लेन देन का अच्छा माध्यम हैं समूह सें लेन देन करने पर महिला का मान सम्मान बने रहने के साथ ही आय अर्जन का साधन उपलब्ध होता हैं।

प्रमुख समाज सेवी मुन्ना कुरैशी ने मुस्लिम महिलाओं के जीवन में षिक्षा का महत्व बताते हुए कहा कि इस्लाम में ज्ञान और प्रषिक्षण को हमेषा महत्व दिया गया हैं और तालीम के लिए नवी करीम सल्लल्लाहू अलैहि वसल्लम का इरषाद हैं कि हर मुसलमान ;मर्द और औरतद्ध तालीम हासिल करना फर्ज हैं और तालीम हासिल करने के लिए चाहे चीन तक ही क्यों न जाना पडे पर तालीम जरुर हासिल करनी चाहिए। इस अवसर पर विजन आॅफ आई डीम फाण्डेषन की चेयरमेन श्रीमती रीता भटटाचार्य ने कहा कि आज प्रषिक्षण के पहले दिन उपस्थित महिलाओं में वो उत्सुकता देखने को मिल रहीं जो बच्चा पहले दिन विधालय जाते समय दिखाता हैं हमारी बहन बेटियों में नेतृत्व क्षमता विकसित करने के लिए प्रषिक्षण में जो विषय षामिल किये गये हैं वह पर्याप्त हैं सभी को प्रषिक्षण में भाग लेकर लाभ उठाना चाहिए। इस अवसर पर रिसोर्स पर्सन श्रीमती तरुना सिंह ने कहा कि नेत्त्व तो हर महिला अपने परिवार में किसी न किसी रुप में करती ही हैं हा प्रषिक्षण के माध्यम से हम उनकी क्षमताओं में वृद्वि कर सकते हैं।
संस्था अध्यक्ष बेताल सिंह नें उपस्थित अतिथियों का धन्यबाद देते हुए कहा कि आपकी उपस्थिति हमारे लिए प्रेरणा देने का कार्य करती हैं साथ ही आपकी सफलता प्राप्त करने के अनुभव प्रेिषक्षार्थियों को आगे बढने व नेतृत्व क्षमता बढाने में प्रेरणादायी साबित होगें इस छह दिवसीय प्रष्ेिेाक्षण कार्यक्रम अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय के दिषा निर्देषानुसार निर्धारित माडयूल-स्वच्छ भारतए वित्तीय प्रणालियांए जीवन कौषलए महिलाओं के कानूनी अधिकारए डिजिटल साक्षरताए महिलाओं में नेतृत्व कुषलताएंए षैक्षिक सषक्तिकरण पर खेल-खेल में एक्सरसाइज व प्रोजेक्टर के द्वारा वीडीयों क्लिपस के माध्यम से प्रषिक्षण देने का कार्य किया जायेगा। इनका सफलतापूर्वक प्रषिक्षण प्राप्त करना मुझे व मेरी पूरी टीम को कार्य करने के लिए प्रेरित करेगीं। प्रषिक्षण अवधि में प्रत्येक प्रषिणार्थी महिला को 600/-स्टाइफण्ड का भुगतान संस्था द्वारा पी एम एस के माध्यम से किया जायेगा।
संवाद , दानिश उमरी

Digital Varta News Agency

No comments:

Post a comment

Post Top Ad

loading...