3 साल के मासूम की हत्या में उलझी पुलिस - माई यूपी न्यूज

माई यूपी न्यूज

मेरा प्रयास, आप का विश्वास

BREAKING

>

3 साल के मासूम की हत्या में उलझी पुलिस

मुरादाबाद डीवीएनए। मंगलवार को तीन साल के मासूम बालक की हत्या कर शव को घर के पीछे फेंक दिया गया था। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पी एम को भिजवा दिया था। बीती रात परिजनो ने हत्या कर शव फेंकने का आरोप लगाते हुए अज्ञात के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया था।

ठाकुरद्वारा कोतवाली क्षेत्र के गांव शरीफ नगर में सरकारी स्कूल के पास संजीव कुमार का घर है। संजीव कुमार मंगलवार को राजमिस्त्री के साथ काशीपुर मजदूरी करने गया था। दोपहर बाद करीब ढाई बजे संजीव का तीन वर्षीय पुत्र मिलन अचानक गायब हो गया था।

संजीव की पत्नी ने घर के आसपास काफी तलाश किया, लेकिन कहीं पता नहीं चला। इस बीच पड़ोसियों ने भी काफी तलाश किया। सूचना मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने भी आसपास तलाश किया। लेकिन कहीं पता नहीं चला। आसपास तलाश कर पुलिस दोबारा घर के पिछले हिस्से पर पहुंची तो बालक की लाश पड़ी थी। मिलन की हत्या कर शव को फेंकना प्रतीत हो रहा था।

पुलिस ने आसपास के क्षेत्र को सील कर फॉरेंसिक टीम को भी जांच के लिए बुलाया । घटना स्थल पर भीड़ बढ़ने पर कोतवाली के साथ ही भोजपुर, डिलारी और भगतपुर की पुलिस भी मौके पर पहुंच गई थी और पुलिस ने पंचनामा भरकर मासूम के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। शुरूआत में लग रहा था कि मामले का जल्द ही खुलासा हो जाएगा लेकिन 24 घंटे से ज़्यादा समय बीत जाने के बाद भी पुलिस के हाथ कोई सफलता नही लगी। पुलिस ने मामले की पूछताछ के लिए दर्जन भर से अधिक लोगों को हिरासत में लिया है।

मासूम के शव को फेंकने के तरीके से साफ है कि बच्चे का शव उसके घर के आसपास ही छिपाकर रखा गया था और मौका मिलते ही उसे फेंक दिया गया है। बताते चलें कि तीन वर्षीय मिलन घर से अचानक गायब हुआ तो उसकी तलाश में घर के आसपास का चप्पा चप्पा छान लिया गया था।

बाद में कोतवाली पुलिस ने भी भीड़ के साथ घर के आसपास बच्चे की तलाश की लेकिन कुछ नहीं मिला लेकिन जैसे ही भीड़ और पुलिस घर के पिछले हिस्से से घर के मुख्य द्वार की ओर आयी और पुनः मकान के पीछे पंहुची तो बच्चे का शव पड़ा मिला। कयास लगाये जा रहे हैं कि बच्चे को मारकर पहले उसे घर के आसपास ही छिपाया गया था और बाद में पकड़े जाने के डर से आनन फानन में शव को मकान के पीछे फेंक दिया गया है। इससे इस बात को भी काफी बल मिलता दिखाई देता है कि मासूम का हत्यारा घर के अंदर या आसपास ही था।

मासूम का शव पंहुचते ही घर में मचा कोहराम
एक दिन पूर्व रहस्यमयी ढंग से लापता हुए तीन साल के मासूम का शव मिलने के बाद कोतवाली पुलिस ने शव को पी एम के लिए भिजवा दिया था। बुधवार को दोपहर बाद जब मासूम मिलन का शव पी एम के बाद उसके घर पंहुचा तो ग्रामीणों की भीड़ उमड़ पड़ी। शव पंहुचने पर मासूम के परिजनों में कोहराम मच गया।इस दौरान हर एक की ज़ुबान पर एक ही बात थी कि ऐसी भी क्या रंजिश थी किसी को कि मासूम को भी नही बख्शा।
संवाद यामीन विकट

Digital Varta News Agency

No comments:

Post a comment

Post Top Ad

loading...