PM मोदी ने यूपी के 6 लाख 10 हजार लाभार्थियों के खातों में डिजिटली ट्रांसफर किए 2690.77 करोड़ - माई यूपी न्यूज

माई यूपी न्यूज

मेरा प्रयास, आप का विश्वास

BREAKING

>

PM मोदी ने यूपी के 6 लाख 10 हजार लाभार्थियों के खातों में डिजिटली ट्रांसफर किए 2690.77 करोड़

लखनऊ डीवीएनए। भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि केन्द्र व राज्य सरकार की गांवों तक पहुंचने वाली विभिन्न योजनाएं ग्रामीण अर्थव्यवस्था को नयी गति प्रदान कर रही हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में राज्य सरकार ने विगत 04 वर्षाें में केन्द्र सरकार की योजनाओं को जिस तेजी से आगे बढ़ाया है, उससे उत्तर प्रदेश को नयी पहचान और नयी उड़ान मिली है।
प्रधानमंत्री आज प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के अन्तर्गत उत्तर प्रदेश के 06 लाख 10 हजार लाभार्थियों के खाते में 2690.77 करोड़ रुपये की धनराशि के डिजिटल ट्रांसफर के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे। कार्यक्रम के दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के लाभार्थियों के खाते में यह धनराशि डिजिटली ट्रांसफर की। कार्यक्रम में प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वर्चुअल माध्यम से सम्मिलित हुए।
प्रधानमंत्री ने कार्यक्रम के दौरान जनपद लखीमपुर खीरी, चित्रकूट, वाराणसी, अयोध्या और सहारनपुर के प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के लाभार्थियों से संवाद भी किया। उन्होंने योजना के सभी लाभार्थियों को बधाई दी और लाभार्थियों को अपने बच्चों को शिक्षित करने के लिए कहा। प्रधानमंत्री से संवाद करने वाले सभी लाभार्थियों ने आवास प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री के प्रति आभार व्यक्त किया।
प्रधानमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश में एक तरफ अपराधियों पर सख्ती तथा दूसरी तरफ कानून-व्यवस्था पर नियंत्रण किया गया है। एक तरफ अनेक एक्सप्रेस-वे पर तेजी से कार्य चल रहा है, तो दूसरी तरफ एम्स जैसे बड़े संस्थान निर्मित हो रहे हैं। उत्तर प्रदेश में विकास की तेज रफ्तार राज्य में बड़ी-बड़ी कम्पनियांे को आकर्षित कर रही है। साथ ही, छोटे-छोटे उद्योग भी आगे बढ़ रहे हैं। ‘एक जनपद, एक उत्पाद’ योजना से स्थानीय कारीगरों को फिर से काम मिलने लगा है। गांवों में रहने वाले श्रमिकों, कारीगरांे की यही आत्मनिर्भरता, आत्मनिर्भर भारत के लक्ष्य को पूरा करेगी। इन योजनाओं के बीच प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मिलने वाले घर प्रदेश के गरीब परिवारों के लिए सम्बल का कार्य करेंगे।
प्रधानमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना आजादी के 75 वर्ष पूर्ण होने पर सभी को आवास मुहैया कराने के संकल्प के साथ शुरु की गयी थी। इसके तहत अब तक 02 करोड़ घर बनाये गये हैं। 1.25 करोड़ घरों की चाबी भी लाभार्थियों को प्रदान की जा चुकी है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व की प्रदेश सरकार की सक्रियता और उनकी टीम की मेहनत से प्रदेश में करीब 22 लाख ग्रामीण आवास बनाये जा रहे हैं। 14.5 लाख गरीब परिवारों को आवास मिल गया है।
प्रधानमंत्री ने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना के बावजूद उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार ने विकास के कामों को तेजी से आगे बढ़ाया है। कोरोना काल खण्ड में अन्य राज्यों से प्रदेश में वापस आने वाले श्रमिकों व कामगारों की सुरक्षित वापसी के साथ ही गरीब कल्याण योजना के अन्तर्गत देश में सर्वाधिक 10 करोड़ मानव दिवस के रोजगार के अवसर सृजित किये गये। इससे वापस आने वाले श्रमिकों व कामगारों को गांव में ही रोजगार मिला। आम जनमानस के जीवन को आसान बनाने के लिए प्रदेश में जो काम हो रहा है, उसे पूरब से लेकर पश्चिम तक, अवध से लेकर बुन्देलखण्ड तक हर कोई अनुभव कर रहा है। आयुष्मान भारत योजना, राष्ट्रीय पोषण मिशन, उज्ज्वला योजना, उजाला योजना आदि से लोगों का जीवन आसान बन रहा है।
प्रधानमंत्री ने 10वें सिख गुरु, गुरु गोविन्द सिंह के प्रकाश पर्व की बधाई देते हुए कहा कि उनके जीवन से सेवा और सत्य के पथ पर चलते हुए बड़ी से बड़ी लड़ाई लड़ने की प्रेरणा मिलती है। उनके दिखाये मार्ग पर देश आगे बढ़ रहा है। गरीब, पीड़ित, शोषित, वंचित के जीवन को बदलने के लिए कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि 20 नवम्बर, 2016 को जनपद आगरा से प्रधानमंत्री आवास योजना का शुभारम्भ किया गया था। इतने कम समय में इस योजना ने लोगों के जीवन में बदलाव किया है। इससे गरीब व्यक्ति में भी अपने घर का सपना साकार होने का विश्वास दृढ़ हुआ है।
प्रधानमंत्री ने कहा कि आज का यह कार्यक्रम इस बात का प्रमाण है कि उत्तर प्रदेश देश के उन राज्यों में शामिल है, जहां तेजी से प्रधानमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत आवासों का निर्माण कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि आत्मनिर्भर भारत का संकल्प देशवासियों के आत्मविश्वास से जुड़ा है। अपना घर होना किसी भी व्यक्ति के आत्मविश्वास को बढ़ा देता है। उन्होंने कहा कि घर व्यक्ति को यह विश्वास देता है कि वह अपनी गरीबी दूर कर सकता है।
प्रधानमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत आवासों के आवंटन में पारदर्शिता, महिलाओं का सम्मान करते हुए उनको मालिकाना हक दिलाना, बनने वाले आवासों की तकनीक के माध्यम से माॅनीटरिंग के साथ ही सरकार की यह भी कोशिश रही है कि यह घर सभी मूलभूत सुविधाओं से युक्त हो, जिससे गांव और शहर का अन्तर कम किया जा सके। इसलिए इन घरों में शौचालय, रसोई गैस, बिजली कनेक्शन की व्यवस्था की गयी है। घर-घर पानी पहुंचाने के लिए जल जीवन मिशन चलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि यह आवास ग्रामीण जीवन में महिलाओं के सशक्तीकरण का माध्यम बन रहे हैं। इससे छोटी जोत और भूमिहीन किसानों को बड़ा लाभ मिल रहा है।
प्रधानमंत्री ने कहा कि ग्रामीण जीवन में व्यापक बदलाव लाने में सक्षम प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना प्रारम्भ की गयी है। इसके अन्तर्गत घर के मालिक को घर का मालिकाना हक दिया जा रहा है। इसके लिए ड्रोन से मैपिंग करायी जा रही है। इससे जमीनों को लेकर होने वाले विवाद समाप्त होंगे। इससे सबसे बड़ा लाभ यह होगा कि मकान का मालिक मालिकाना हक के अभिलेख के आधार पर बैंक से ऋण प्राप्त कर सकेगा। इससे ग्रामीण सम्पत्तियों का मूल्य बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में स्वामित्व योजना तेजी से चल रही है। प्रदेश में 8,500 गांवों में इस योजना का कार्य पूरा हो गया है। उत्तर प्रदेश में घर के मालिकाना हक के डिजिटल सर्टीफिकेट को घरौनी कहा जा रहा है। अब तक 51,000 प्रमाण पत्र वितरित किये जा चुके हैं। जल्द ही एक लाख और लोगों को यह प्रमाण पत्र प्राप्त हो जाएंगे।
कार्यक्रम में अपने सरकारी आवास से वर्चुअल माध्यम से सम्मिलित हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन में प्रदेश के हर गरीब, किसान, मजदूर, महिला, नौजवानों को केन्द्र व राज्य सरकार की योजनाओं का लाभ मिला है। प्रधानमंत्री आवास योजना ने हर गरीब के आवास के सपने को साकार किया है। प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के आवास देश व प्रदेश के हर गांव में निर्मित हो रहे हैं। शहरी क्षेत्रों में भी प्रधानमंत्री आवास योजना (नगरीय) के आवास बनाये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस योजना के माध्यम से गरीब के जीवन में परिवर्तन की प्रधानमंत्री की सोच मूर्तरूप ले रही है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 01 अप्रैल, 2016 को प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) की घोषणा की थी। 20 नवम्बर, 2016 को प्रदेश के जनपद आगरा से यह योजना शुरू हुई। प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के अन्तर्गत राज्य में अब तक 14 लाख 61 हजार गरीब परिवारों को आवास दिये गये हैं। इनमें से 14 लाख 33 हजार आवास पूर्ण हो गये हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2020-21 के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के तहत स्वीकृत आवासों में से 01 लाख 76 हजार आवासों के लाभार्थियों को पहली किस्त दी जा चुकी है। आज के कार्यक्रम में प्रधानमंत्री द्वारा 5.30 लाख आवासों के लाभार्थियों को पहली किस्त तथा 80 हजार लाभार्थियों को दूसरी किस्त प्रदान की जा रही है। इस प्रकार, आज 6.10 लाख लाभार्थियों को 2690 करोड़ रुपये से अधिक की धनराशि उनके खातों में दी जा रही है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) में लाभार्थी को आवास हेतु 1.20 लाख रुपये, शौचालय निर्माण हेतु 12 हजार रुपये तथा 90 दिन की मनरेगा की मजदूरी की सुविधा प्रदान की जाती है। नक्सल प्रभावित मिर्जापुर, सोनभद्र, चन्दौली जनपदों में लाभार्थी को आवास हेतु 1.30 लाख रुपये, शौचालय हेतु 12 हजार रुपये, मनरेगा की 90 दिन की मजदूरी प्रदान की जाती है। राज्य सरकार द्वारा अभियान चलाकर केन्द्र व राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं से लाभार्थियों को लाभान्वित किया गया है। लाभार्थियों को प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना, सौभाग्य योजना, आयुष्मान भारत योजना आदि योजनाओं के लाभ उपलब्ध कराये गये हैं। कुपोषित परिवारों को निराश्रित गोवंश आश्रय स्थल से गोवंश उपलब्ध कराया गया है। अब तक 09 हजार लाभार्थियों को गोवंश उपलब्ध कराया गया है।
कार्यक्रम को वर्चुअल माध्यम से सम्बोधित करते हुए केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) में उत्तर प्रदेश देश में प्रथम स्थान पर है।
मुख्यमंत्री के सरकारी आवास से वर्चुअल माध्यम से सम्मिलित होने के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में प्रदेश के ग्राम्य विकास मंत्री राजेन्द्र प्रताप सिंह ‘मोती सिंह’, राज्यमंत्री आनन्द स्वरूप शुक्ल, मुख्य सचिव आरके तिवारी, अपर मुख्य सचिव सूचना एवं एम0एस0एम0ई0 नवनीत सहगल, अपर मुख्य सचिव ग्राम्य विकास एवं पंचायतीराज मनोज कुमार सिंह, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एवं सूचना संजय प्रसाद सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Digital Varta News Agency

No comments:

Post a comment

Post Top Ad

loading...