रेलवे ने नेताजी को भुला दिया‌ ‌

"तुम मुझे खून दो मैं तुम्हें आजादी दूंगा दिल्ली चलो दिल्ली का रास्ता आजादी का रास्ता है "का नारा देने वाले अदम्य साहस के प्रतिक और आजादी के लिए दीवाने बन गए नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर उन्हें शत शत नमन ! लेकिन बेहद खेद है नेताजी से जुड़ा गोमो रेलवे स्टेशन जहां उनके अंतिम पग पड़े थे वह आज भी यात्री सुविधाओं से महरूम है। नेताजी की याद में उनके जयंती पर कम से कम यहां नहीं रुकने वाली कुछ गाड़ियों के ठहराव की घोषणा तो करनी ही चाहिए थी। 

No comments